उच्च रक्तचाप का घरेलू उपचार Home Remedies For High Blood Pressure

Home Remedies For Hypertension

उच्च रक्तचाप से हृदय को नुकसान हो सकता है। यह रोग पूरे दुनिया में 1 बिलियन लोगों को है। तनाव, सोडियम (नमक) और चीनी से उच्च रक्तचाप बढ़ जाता हैं। जामुन, डार्क चॉकलेट और कुछ सप्लीमेंट्स इसे कम करने में सहयोग करते हैं। उच्च रक्तचाप कम करने के लिए जरूरी बातें निम्नलिखित है-

1. तनाव कम करें

वर्तमान युग तेजी से विकसित हो रहा है। बढ़ते मांग और भाग दौड़ के समय में आराम करने का समय निकालना मुश्किल हो सकता है। अपनी दैनिक जिम्मेदारियों से थोड़ा अलग होना तनाव कम करने के लिए महत्वपूर्ण है। तनाव अस्थायी रूप से रक्तचाप को बढ़ा सकता है। तनाव के श्रोत काम का बोझ, रिस्ते मे गड़बड़ी, वित्तीय आदि हो सकता है। तनाव के वजह को समझ कर, इस समस्या का समाधान करने के तरीकों को खोजने का प्रयास करना चाहिए।

स्वस्थ तरीके से अपने तनाव को दूर करने के लिए कदम उठायें। गहरा सांस लेने, ध्यान करने, तथा योग का अभ्यास करने का प्रयास करें।

2. अतिरिक्त वजन कम करें

शरीर का ज्यादा वजन रक्तचाप को प्रभावित करता है। यदि 10 किलोग्राम वजन भी कम कर दिया जाये तो रक्तचाप को कम करने में मदद मिलता है। रक्तचाप को नियंत्रित करने के लिए कमर के आसपास का अतिरिक्त वसा को कम करना आवश्यक है। कमर के चारों तरफ के अतिरिक्त वसा को विषाक्त वसा कहा जाता है। कमर के आस पास का वसा पेट के विभिन्न अंगों को प्रभावित करता है। जिससे उच्च रक्तचाप के साथ और भी गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। पुरुषों के कमर का माप आम तौर पर 40 इंच से कम होना चाहिए और महिलाओं के कमर का माप 35 इंच से कम होना चाहिए।

3. अल्कोहल लेना कम करें

रात के समय खाना खाने के साथ एक पैग शराब पीना स्वास्थ्य के लिए ठीक है। लेकिन शराब अत्यधिक मात्रा में पीने से उच्च रक्तचाप बढ़ता है। साथ ही कई स्वास्थ्य समस्याएं भी हो सकती हैं। ज्यादा शराब पीने से कुछ रक्तचाप की दवाओं का प्रभाव भी कम हो सकता है।

संयम से शराब पीने का मतलब है कि पुरुष प्रतिदिन दो पैग शराब पी सकते है और महिलायें प्रति दिन एक पैग शराब पी सकती है। बीयर 12 औंस और शराब 5 औंस 1 पैग के बराबर है।

4. निकोटीन का सेवन ना करें

सिगरेट पीने के कुछ समय बाद रक्तचाप बढ़ता है। ज्यादा धूम्रपान करने वाले व्यक्ति का उच्च रक्तचाप ज्यादा समय तक रह सकता है। धूम्रपान करने वाले जो उच्च रक्तचाप के रोगी हों उन्हे दिल का दौरा, और स्ट्रोक के विमारी का जोखिम हो सकता है। सेकेंडहैंड धुआं भी उच्च रक्तचाप और हृदय रोग का जोखिम डाल सकता है।
कई दूसरे स्वास्थ्य लाभ लेने के अलावा , यदि धूम्रपान छोड़ दिया जाये तो रक्तचाप सामान्य हो सकता हैं।

उच्च रक्तचाप से होने वाले जोखिम

उच्च रक्तचाप का समय से इलाज नहीं करने पर गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकता है, जिसमें स्ट्रोक, दिल का दौरा, और गुर्दे समस्या शामिल है। अपने डॉक्टर के सलाह से आप अपने रक्तचाप पर निगरानी और नियंत्रण कर सकते हैं। रक्तचाप 130/80 मिमी एचजी से ऊपर होने को उच्च रक्तचाप माना जाता है। उच्च रक्तचाप का उपचार के लिए दवा लेना तथा अपने जीवन शैली में बदलाव करना आवश्यक हैं।

विशेषज्ञों का मानना है कि प्रत्येक जीवन शैली में बदलाव से औसतन 4 से 5 मिमी एचजी सिस्टोलिक (बड़ी संख्या) और 2 से 3 मिमी एचजी डायस्टोलिक (छोटी संख्या) रक्तचाप कम हो सकता है। नमक का सेवन कम करने से तथा अपने आहार में बदलाव लाने से रक्तचाप कम हो सकता है।

Divya Mukta Vati – यह दवा उच्च रक्तचाप को प्राकृतिक रूप से कम करने के लिए आयुर्वेदिक दवा है। Read More

Leave a reply

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>