हिन्दी Blog tagged posts

उच्च रक्तचाप मे लाभकारी खाद्य पदार्थ Beneficial Foods In High Blood Pressure

Beneficial Foods In High Blood Pressure

उच्च रक्तचाप क्या है? What Is High Blood Pressure?

उच्च रक्तचाप धमनियों के दीवारों पर रक्त का दबाव बनाता है। कुछ समय के बाद, उच्च रक्तचाप के वजह से रक्त वाहिका क्षतिग्रस्त हो सकती है। इस कारण हृदय रोग, गुर्दे की बीमारी, स्ट्रोक तथा कई अन्य समस्याएं हो जाती है। उच्च रक्तचाप को मूक हत्यारा भी कहा जाता है क्योंकि इससे प्रभावित व्यक्ति को कोई लक्षण समझ मे नहीं आता है जिस कारण कई वर्षों तक इस रोग के प्रति ध्यान नहीं जाता है।...

Read More

उच्च रक्तचाप क्या है? What Is High Blood Pressure?

उच्च रक्तचाप धमनियों के दीवारों पर रक्त का दबाव बनाता है। कुछ समय के बाद, उच्च रक्तचाप के वजह से रक्त वाहिका क्षतिग्रस्त हो सकती है। इस कारण हृदय रोग, गुर्दे की बीमारी, स्ट्रोक तथा कई अन्य समस्याएं हो जाती है। उच्च रक्तचाप को मूक हत्यारा भी कहा जाता है क्योंकि इससे प्रभावित व्यक्ति को कोई लक्षण समझ मे नहीं आता है जिस कारण कई वर्षों तक इस रोग के प्रति ध्यान नहीं जाता है।

उच्च रक्तचाप के कई कारण नियंत्रण से बाहर होता हैं, जैसे उम्र, परिवार का इतिहास, लिंग और भाग-दौड़। लेकिन कुछ ऐसे कारण हैं जिन्हें व्यायाम और आहार के द्वारा नियंत्रित किया जा सकता हैं। मैग्नीशियम, पोटेशियम, और फाइबर में समृद्ध तथा कम सोडियम वाले आहार रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद कर सकते है।

रक्तचाप में मदद करने वाले खाद्य पदार्थ Foods That Help In Blood Pressure

1. स्किम दूध और दही Skim Milk And Yogurt

स्किम दूध में वसा कम होता है तथा कैल्शियम का अच्छा स्रोत होता है, इस लिए यह रक्तचाप को कम करने के लिए महत्वपूर्ण हैं। जो दूध लेना पसंद नहीं करते हैं वो दही ले सकते हैं।

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन के अनुसार, जो सप्ताह में पांच बार या उससे अधिक बार दही खाते है। उनके उच्च रक्तचाप 20 प्रतिशत तक कम हो जाता है।

हृदय स्वास्थ्य में लाभ के लिए दही में ग्रेनोला, बादाम स्लाइस और फल ले सकते है। दही में चीनी का ध्यान रखें। जितना चीनी का मात्रा कम होगा उतना ही अच्छा होगा।

2. जामुन Blackberry

जामुन प्राकृतिक यौगिकों से समृद्ध होते हैं। अध्ययनों से पता चला है कि जामुन के सेवन से उच्च रक्तचाप को रोका जा सकता है तथा निम्न रक्तचाप में भी मदद मिलता है। ब्लूबेरी, स्ट्रॉबेरी और रसभरी को अपने आहार में शामिल करना आसान है।

3. पत्तेदार साग Leafy Greens

पोटैशियम आपके मूत्र के माध्यम से आपके गुर्दे को अधिक सोडियम से छुटकारा दिलाने में मदद करता है। यह बदले में आपके रक्तचाप को कम करता है। लाभकारी साग है- पत्ता गोभी, पालग, शलजम आदि। डिब्बाबंद सब्जियों का सेवन नहीं करना चाहिए, इसमे सोडियम मिला होता है। उगाई हुई ताजी शब्जियों में पोषक तत्व होता हैं।

4. चुकंदर Sugar Beets

इसके सेवन से रक्त वाहिकाओं को खोलने में मदद मिल सकता हैं। शोधकर्ताओं ने अपने अनुसंधान में पाया कि चुकंदर के रस में मौजूद नाइट्रेट से अनुसंधान प्रतिभागियों के रक्तचाप केवल 24 घंटों के अंदर कम हो गया।

चुकन्दर के रस का सेवन किया जा सकता हैं या पका कर खा सकते हैं। भुना हुआ चुकंदर स्वादिष्ट होता है। चुकन्दर का चिप्स बनाकर उन्हें बेक करके भी लिया जा सकता है। चुकन्दर काटते समय ध्यान रहें – इसके रस से हाथों और कपड़ों पर दाग लग सकता है।

Divya Mukta Vati- दिव्य मुक्ता वटी उच्च रक्तचाप को कम करने के लिए प्राकृतिक दवा है। इसे किसी भी उम्र के लोग ले सकते हैं। इसका कोई साइड इफेक्ट नहीं है। Read More

उच्च रक्तचाप का घरेलू उपचार Home Remedies For Hypertension

Home Remedies For Hypertension

उच्च रक्तचाप क्या है What Is High Blood Pressure?

रक्तचाप से ही दिल, धमनियों मे रक्त पंप करता है। हमारा सामान्य रक्तचाप 120/80 mm Hg होना चाहिए। जब रक्तचाप अधिक होता है तो रक्त धमनियों में अधिक तेजी से चलता है। इस लिए धमनियों में नाजुक ऊतकों (delicate tissues) पर दबाव बढ़ता है जिससे रक्त वाहिकाओं (blood vessels ) को नुकसान पहुंचाता है।
उच्च रक्तचाप मूक हत्यारा का काम करता है। आमत...

Read More

उच्च रक्तचाप क्या है What Is High Blood Pressure?

रक्तचाप से ही दिल, धमनियों मे रक्त पंप करता है। हमारा सामान्य रक्तचाप 120/80 mm Hg होना चाहिए। जब रक्तचाप अधिक होता है तो रक्त धमनियों में अधिक तेजी से चलता है। इस लिए धमनियों में नाजुक ऊतकों (delicate tissues) पर दबाव बढ़ता है जिससे रक्त वाहिकाओं (blood vessels ) को नुकसान पहुंचाता है।
उच्च रक्तचाप मूक हत्यारा का काम करता है। आमतौर पर रक्तचाप के लक्षणों का कारण पता नहीं चलता है। अक्सर इसका पता तब चलता है, जब दिल को नुकसान पहुँच गया होता है। ज्यादातर लोगों को पता नही होता है कि उनको उच्च रक्तचाप है।

1. हर रोज व्यायाम करें Daily Exercise

हर रोज 30 से 60 मिनट तक व्यायाम करना स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है। नियमित व्यायाम करने से रक्तचाप ठीक रखने में मदद मिलता है साथ ही हमारे शारीरिक गतिविधि, ताकत, मूड, और शरीर के संतुलन को लाभ मिलता है। नियमित व्यायाम करने से मधुमेह तथा हृदय रोग के जोखिम को कम करने मे सहयोग मिलता है। अपने डॉक्टर से सुरक्षित व्यायाम के बारे में सलाह करके धीरे-धीरे शुरू करें, फिर धीरे-धीरे बढ़ायें।

शारीरिक गतिविधियों के लिए हर रोज पैदल चलना महत्वपूर्ण है। शारीरिक गतिविधि के लिए जीम भी जा सकते है, अपने घर पर व्यायाम कर सकते है या तैरने के लिए भी जा सकते है।

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन सुझाव देता है कि सप्ताह मे कम से कम दो दिन मांसपेशियों को मजबूत करने वाला व्यायाम करना चाहिए। इसके लिए वजन उठाना, पुशअप करने जैसा व्यायाम कर सकते हैं जिससे मांसपेशियाँ मजबूत हों।

2. DASH आहार लें

उच्च रक्तचाप मे Dietary Approaches to Stop Hypertension (DASH) आहार लेकर ब्लड प्रेशर को 11 mm Hg systolic तक कम करने मे मदद मिलता है। DASH मे निम्नलिखित आहार शामिल हैं-

  • फल, हरी सब्जियां, और साबुत अनाज।
  • कम वसा वाले डेयरी उत्पाद और सुखे फल।
  • संतृप्त वसा वाले खाद्य पदार्थ, पूर्ण वसा वाले डेयरी उत्पाद को नही लेना चाहिए। मिठाई और मीठे पेय पदार्थों को बहुत कम लें।

3. सोडियम का सेवन कम करें Reduce Sodium Intake

रक्तचाप को कम करने के लिए सोडियम का सेवन कम करना महत्वपूर्ण है। कुछ लोगों में ऐसा पाया गया है कि, जब वे अधिक सोडियम खाते हैं, तो उनका शरीर द्रव बनाए रखना शुरू कर देता है। इस वजह से रक्तचाप में वृद्धि हो जाती है।

सोडियम का सेवन प्रति दिन 1,500 से 2,300 मिलीग्राम के बीच लेने का सुझाव देता है। यह आधे टेबल चम्मच नमक के बराबर है।

अपने आहार में सोडियम का मात्रा कम करने के लिए, अपने भोजन में नमक कम लें। एक टेबल चम्मच नमक 2,300 मिलीग्राम सोडियम के बराबर होता है।

अपने स्वाद के लिए जड़ी बूटियों और मसालों का उपयोग कर सकते है। जहां तक संभव हो, कम सोडियम वाला खाद्य पदार्थ लें।

Divya Mukta Vati- दिव्य मुक्ता बटी उच्च रक्तचाप को कम करने के लिए एक प्राकृतिक दवा है और किसी भी उम्र का आदमी इस दवा का उपयोग कर सकता हैं। इस दवा का कोई साइड इफेक्ट नहीं है। Read More

उच्च रक्तचाप के लिए लाभकारी खाद्य पदार्थ Beneficial Foods For High Blood Presure

Beneficial Foods For High Blood Presure

उच्च रक्तचाप क्या है What is high blood pressure ?

उच्च रक्तचाप धमनी की दीवारों पर रक्त के दबाव को संदर्भित करता है। उच्च रक्तचाप के वजह से रक्त वाहिका क्षतिग्रस्त हो सकती है जो हृदय रोग, स्ट्रोक , गुर्दे की बीमारी आदि समस्याओं का वजह होता है। उच्च रक्तचाप को मूक हत्यारा भी कहा जाता है क्योंकि वर्षों तक इसका कोई लक्षण नहीं दीखता है।...

Read More

उच्च रक्तचाप क्या है What is high blood pressure ?

उच्च रक्तचाप धमनी की दीवारों पर रक्त के दबाव को संदर्भित करता है। उच्च रक्तचाप के वजह से रक्त वाहिका क्षतिग्रस्त हो सकती है जो हृदय रोग, स्ट्रोक , गुर्दे की बीमारी आदि समस्याओं का वजह होता है। उच्च रक्तचाप को मूक हत्यारा भी कहा जाता है क्योंकि वर्षों तक इसका कोई लक्षण नहीं दीखता है।

उच्च रक्तचाप होने के कई कारण हमारे नियंत्रण से बाहर हैं, जैसे उम्र, परिवार का इतिहास, लिंग और दौड़-भाग। कुछ तरीके ऐसे हैं जिन्हें अपना कर हम उच्च रक्तचाप नियंत्रित कर सकते हैं, जैसे नियमित व्यायाम और आहार। आहार जो रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद कर सकते है वह है मैग्नीशियम, पोटैशियम, फाइबर, और कम सोडियम वाला आहार।

रक्तचाप को कम करने में मदद करने वाले खाद्य पदार्थ निम्नलिखित हैं-

1. पत्तेदार साग Leafy Greens

पोटेशियम, मूत्र मार्ग के माध्यम से हमारे गुर्दे को ज्यादा सोडियम से छुटकारा दिलाने में मदद करता है। साथ ही हमारे रक्तचाप को कम करने मे मदद करता है। पत्तेदार साग, जो पोटैशियम में उच्च हैं, वो है- पत्ते वाली गोभी, पालक, शलजम का साग पत्तेदार साग आदि ।

2. मलाई निकाला हुआ (स्किम) दूध और दही Skimmed Milk And Yogurt स्किम दूध

कैल्शियम का मुख्य स्रोत है और वसा कम होता है। रक्तचाप कम करने के लिए ये दोनों ही आहार के महत्वपूर्ण तत्व हैं। यदि आप दूध लेना पसंद नहीं करते हैं तो आप दही ले सकते है।

अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन ने ऐसा पाया है कि जिन महिलाओं ने हर हफ्ते कम से कम पांच बार दही खाया, उनके उच्च रक्तचाप का जोखिम 20 प्रतिशत कम हुआ। हृदय स्वास्थ्य लाभ के लिए दही बादाम स्लाइस और फलों को शामिल करें। दही खाते समय चीनी का ध्यान रखें। चीनी का मात्रा जितना कम होगा, उतना ही अच्छा होगा।

3. दलिया Oatmeal

सुबह नास्ता मे दलिया लेना रक्तचाप को कम करने के लिए अच्छा है। दलिया मे उच्च फाइबर, कम वसा और कम सोडियम होता है।

4. केला Banana केला मे पोटेशियम प्रचुर मात्रा मे पाया जाता है। सुबह नास्ता मे दलिया के साथ एक केला ले सकते है।

5. अनार Pomegranate

अनार को कच्चा या रस के रूप में ले सकते हैं। एक अध्ययन से पता चला है कि चार सप्ताह तक दिन में एक बार एक कप अनार का रस पीने से रक्तचाप कम हो जाता है। खरीदे गये अनार के जूस में चीनी के मात्रा का पता कर लें क्योंकि ज्यादा चीनी स्वास्थ्य के लिए नुकसान दायक हो सकता है।

6. चुकंदर Sugar Beets

चुकंदर मे नाइट्रिक ऑक्साइड प्रचुर मात्रा मे होता हैं, जो रक्त वाहिकाओं को खोलने में मदद करता हैं और निम्न रक्तचाप मे लाभकारी है। शोधकर्ताओं ने पाया है कि चुकंदर के रस में मौजूद नाइट्रेट रक्तचाप को 24 घंटों के अंदर कम कर दिया।

आप चुकंदर का रस निकाल कर सेवन कर सकते हैं या पका कर खा सकते हैं। भुना हुआ चुकंदर स्वादिष्ट होता है। आप चुकंदर का चिप्स बना कर बेक कर सकते हैं। चुकंदर काटते समय या रस निकालते समय सावधान रहें – चुकंदर के रस से आपके हाथों और कपड़ों पर दाग लग सकता है।

7. बीज Seeds

खून में दबाव को कम करने के लिए अनसाल्टेड बीज अच्छा होता हैं। भोजन के साथ सूरजमुखी या कद्दू के बीज ले सकते है।

8. लहसुन और जड़ी बूटी Garlic and Herbs

लहसुन शरीर में नाइट्रिक ऑक्साइड के मात्रा को बढ़ाकर उच्च रक्तचाप को कम करने में मदद करता है। नाइट्रिक ऑक्साइड रक्तचाप को कम करने के लिए धमनियों को चौड़ा करने में सहयोग करता है।

अपने आहार में स्वादिष्ट जड़ी बूटियों और मसालों का सेवन करने से नमक का सेवन कम करने मे मदद मिल सकता है। जड़ी-बूटियों और मसालों मे आप तुलसी, दालचीनी, अजवायन, काली मिर्च आदि ले सकते है।

9. जैतून का तेल Olive oil

जैतून के तेल मे स्वस्थ वसा होता है। इसमें पॉलीफेनोल्स होता हैं, जो सूजन से लड़ने वाले यौगिक होते हैं। यह रक्तचाप को कम करने में सहयोग करता हैं।

10. पिस्ता Pistachios

पिस्ता रक्त वाहिका को ठीक करने , हृदय गति को कम करके और रक्तचाप को कम करने मे मदद करता है। आप अपने आहार में पिस्ता को सलाद में शामिल करके ले सकते है।

11. जामुन Blackberry

जामुन, खासकर ब्लूबेरी, प्राकृतिक यौगिकों में समृद्ध होता हैं। एक अध्ययन से ज्ञात हुआ कि जामुन के सेवन से उच्च रक्तचाप को रोका जा सकता है और निम्न रक्तचाप में मदद मिल सकता है। स्ट्रॉबेरी , ब्लूबेरी और रसभरी को अपने आहार में शामिल करना आसान है।

उच्च रक्तचाप का इलाज करने के लिए दिव्य मुक्ता वटी (Divya Mukta Vati ) प्राकृतिक जड़ी बूटियों से बना हुआ आयुर्वेदिक दवा है। इस दवा के सेवन से स्वास्थ्य का कोई नुकसान नहीं होता है। अधिक जानकारी के लिए Click करें।

हृदय स्वास्थ्य के लिए घरेलू उपचार Home Remedies For Cardiovascular Health

Home Remedies For Cardiovascular Health

कुछ घरेलू उपचार हृदय दर्द मे जल्द राहत नहीं लाते हैं, लेकिन लंबे समय तक आपके दिल के स्वास्थ्य में सुधार करने के लिए काम करते हैं। जीवनशैली बदल कर , फल और सब्जियों से समृद्ध स्वस्थ आहार, नियमित व्यायाम और धूम्रपान छोड़ कर हृदय स्वास्थ्य में सुधार लाया जा सकता है।

कई ऐसे खान-पान है। जिसका सेवन करने से आपके दिल का स्वस्थ्य मजबूत रखने में मदद मिल सकता हैं। खुराक की गुणवत्ता अलग-अलग होत...

Read More

कुछ घरेलू उपचार हृदय दर्द मे जल्द राहत नहीं लाते हैं, लेकिन लंबे समय तक आपके दिल के स्वास्थ्य में सुधार करने के लिए काम करते हैं। जीवनशैली बदल कर , फल और सब्जियों से समृद्ध स्वस्थ आहार, नियमित व्यायाम और धूम्रपान छोड़ कर हृदय स्वास्थ्य में सुधार लाया जा सकता है।

कई ऐसे खान-पान है। जिसका सेवन करने से आपके दिल का स्वस्थ्य मजबूत रखने में मदद मिल सकता हैं। खुराक की गुणवत्ता अलग-अलग होती है, इसलिए केवल प्रतिष्ठित निर्माताओं से ही खरीदें। साइड इफेक्ट्स के जोखिम को सीमित करने के लिए बोतल पर खुराक के निर्देशों का पालन करें। ओमेगा -3 फैटी एसिड दिल के स्वास्थ्य को ठीक रखने वाले महत्वपूर्ण चीजो मे से एक है।

निम्नलिखित महत्वपूर्ण बातों पर भी ध्यान दे

  • अपने रक्तचाप को कम करें
  • अपने ट्राइग्लिसराइड के स्तर को कम करें
  • एथेरोस्क्लेरोसिस की प्रगति को कम करें
  • ओमेगा -3 एस के लिए मछली के तेल की खुराक लें।

अनार का रस pomegranate juice

अपने आहार में अनार का रस जोड़ना आपके दिल के लिए फायदेमंद हो सकता है। अनार एंटीऑक्सीडेंट में उच्च होते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल को ठीक रखने में मदद कर सकता हैं और धमनियों को स्वस्थ रखने मे मदद मिल सकता हैं।

शोध से पता चला है कि अनार का रस आपके रक्त के खराब कोलेस्ट्रॉल (एलडीएल) को कम करने में मदद कर सकता है। यह आपके धमनियों में प्लाक बिल्ड-अप को रोकने या कम करने में भी मदद कर सकता है, जिससे आपके दिल में रक्त प्रवाह कम हो सकता है। एक अध्ययन में पाया गया है कि अनार का रस पीने से रक्तचाप कम हो जाता है।

लहसुन Garlic

लहसुन की खुराक दिल की समस्याओं से लड़ने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। शोध से पता चला है कि लहसुन खाने से धमनी में प्लाक बिल्ड-अप को रोकने में मदद मिल सकता है और दिल की बीमारी मे भी सुधार होता है। यदि आप को लहसुन का गंध ठीक नही लगता है तो आप लहसुन का कैप्सूल ले सकते है।

अदरक Ginger

अदरक को एंटीऑक्सीडेंट क्षमताओं के रूप में माना जाता है।

अदरक खाने से लाभ Benefits of eating ginger:

  • यह रक्त चाप को कम करता है।
  • कोलेस्ट्रॉल को कम करता है।
  • ट्राइग्लिसराइड्स को कम करता है।
  • रक्त के थक्के को ठीक करता है।

अदरक पेट के गैस को कम करने के लिए जाना जाता है। यह प्राकृतिक रूप से रक्त को पतला करने मे मदद करता है। यदि आप रक्त पतला करने का दवा ले रहे है तो डाक्टर का सलाह लेकर अदरक का सेवन करें।

हल्दी Turmeric

हल्दी सूजन को कम करने में मदद करता है जो दिल की बीमारी की ओर जाता है। यह शरीर में कुल कोलेस्ट्रॉल और खराब कोलेस्ट्रॉल को भी कम कर सकता है। यह एथेरोस्क्लेरोसिस को रोकने में भी मदद कर सकता है।

अल्फाल्फा Alfalfa

कई लोग दावा करते हैं कि अल्फाल्फा कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए उपयोगी है। एक अध्ययन में पाया गया कि अल्फल्फा के प्रयोग से कोलेस्ट्रॉल कम हो गया और मधुमेह मे भी लाभकारी है।

तुलसी Holy basil

तुलसी एक लोकप्रिय आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है। इसके प्रयोग से तनाव को कम करने मे सहयोग मिलता है। तुलसी कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए भी प्रयोग किया जाता है। यदि आप धूम्रपान जैसे अस्वास्थ्यकर तरीकों से तनाव का सामना करते हैं तो ऐसा तनाव दिल की बीमारी का खतरा बढ़ा सकता है।

दिल का दर्द आम तौर पर पाचन समस्याओं या मांसपेशियों के कारण होता है, लेकिन कभी-कभी यह गंभीर स्थिति के कारण भी हो सकता है।

दिल के दौरे या एंजिना और खराब गैस से होने वाले दर्द के बीच अंतर करना मुश्किल है, इसलिए आपको हमेशा दिल का दर्द गंभीरता से लेना चाहिए।

जब आपका डॉक्टर संभावित हृदय समस्या से इंकार कर दिया हो और आप समझ गये हों कि आपके दर्द का वजह क्या है तो घरेलू उपचारों को आजमाएं।

दिल से स्वस्थ जीवनशैली के साथ-साथ घरेलू उपचार का संयोजन, दर्द से राहत दिलाने और दिल के स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद कर सकता है।

हृदय रोग के लिए आयुर्वेदिक दवा Ayurvedic Medicine For Heart Disease

Divya Hridayamrit Vati हृदय को शक्ति प्रदान करने और दिल की कमजोरी को दूर करने में मदद करती है। Divya Hridayamrit Vati का उपयोग करना हृदय रोग के लक्षणों का इलाज करने के लिए सही उपाय है। यह दवा हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार करने में भी मदद करती है। इस दवा का इस्तेमाल करके दिल की समस्याओं से बचा जा सकता हैं। Divya Hridayamrit Vati के बारे मे जानने के लिए क्लीक करें।