डायबिटीज मे खाना खाने के लिए सुझाव Tips For Eating In Diabetes

Tips For Eating In Diabetes

कनाडा का डायबिटीज एसोसिएशन सलाह देता है कि – खाना खाने से पहले अपने रक्त ग्लूकोज के स्तर की जांच करवायें और दो घंटे बाद जांच करवाएं कि आपका भोजन आपके रक्त ग्लूकोज को किस तरह प्रभावित करता है।

ऐसा आहार जो शुगर के रोगी को नहीं लेना चाहिए Foods That Should Not Be Taken By The Patient Of Sugar

  • तला हुआ भोजन न खाएं।
  • पचने मे भारी और फैटी भोजन मत खाएं।
  • मक्खन, नारियल के तेल और खजूर का तेल न खायें।
  • केक, मीठे अनाज, शहद, जैम, जेली, आइसक्रीम, या कैंडी जैसे खाद्य पदार्थ जिसमे चीनी हो न खाएं।
  • सोडा और मीठे फलों के रस न लें।
  • अपने खाद्य पदार्थों में चीनी मत लें।
  • भोजन करना मत छोड़ें, थोड़ा – थोड़ा लेते रहें ।

खाने के चीजों की खरीदारी करने से पहले Before Shopping Of Food Items

  • खरीदारी करने से पहले अपने भोजन की योजना बनाएं और खाद्य सामग्री मे विभिन्न प्रकार के खाद्य सामग्री शामिल करें।
  • अपने भोजन की योजना के अनुसार किराने की दुकान के लिए सूची बनाएं।
  • सोडा, मिठाई और चिप्स से बचें।
  • मधुमेह होने पर परिवार या दोस्तों के साथ यदि भोजन करते है तो उनका साथ निभाने के लिए ऐसा कोई भोजन ना करें जो आप के स्वास्थ्य के प्रतिकुल हो। यहां तक कि जब आप किसी होटल या रेस्तरां में खाना खाते हैं तो आप अपने स्वास्थ्य के अनुरूप ही भोजन करें।

खाना खाने के लिए सुझाव Tips For Eating Food

  1. खाना खाने से पहले ताजे शब्जियों का सूप या ताजे फलों का जूस लें। ता कि आप कम रोटी खा पाएं।
  2. सलाद ज्यादा मात्रा मे लें ताकि आप रोटी कम खाएं।
  3. खाद्य पदार्थों को बदलते रहें – खाने मे खाद्य पदार्थों को बदलते रहें। तला हुआ भोजन के बजाय उबला हुए या बेक्ड खाद्य पदार्थों को लें। सलाद या उबला हुआ सब्जियां लें।
  4. फल लें – मिठाई के जगह संभव हो तो फल लें। भोजन के अंत में चीनी वाले मिठाई से बचें।
  5. काम करने के साथ आराम भी करते रहें और अपने भोजन का आनंद लें। जब आप खाना खाते समय पेट भरा हुआ महसूस करें तो खाना खाना रोक दें। ताकि ज्यादा मात्रा मे भोजन ना लें। ज्यादा मात्रा मे भोजन लेने से शुगर बढ़ जाता है।
  6. खाना 8 बजे से पहले खा लें और अपने डिनर करने के बाद कुछ टहलें।
मधुमेह के लिए आयुर्वेदिक दवा Divya Madhunashini Vati

यह दवा स्वामी रामदेव जी के दिव्य फार्मेसी मे बना हुआ है। यह दवा जड़ी बूटियों से बना हुआ आयुर्वेदिक दवा है। इस दवा के खाने से कोई नुकसान नहीं है। अधिक जानकारी के लिए Click करें।

Leave a reply

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>